2022 के चुनाव में नालागढ़ में कौन मारेगा बाजी

Read Time:4 Minute, 19 Second

रणभूमि में उतरे नए उम्मीदवार बिगाड़गे नेताओं का खेल

रणभूमि  में क्या रहेंगे समीकरण

2022 के चुनाव में नालागढ़ में कौन मारेगा बाजी

रणभूमि में उतरे नए उम्मीदवार बिगाड़गे नेताओं का खेल

रणभूमि  में क्या रहेंगे समीकरण

चुनाव के तारीख नजदीक आते ही भाजपा कांग्रेस आम आदमी पार्टी उम्मीदवार सहित कई नए चेहरे भी रणभूमि में उतरकर अपनी मजबूती पेश कर रहे हैं इस बार का चुनावनालागढ़ में दिलचस्प होने वाला है दरअसल यहां पर भाजपा में जहां गुटबाजी बढ़ गई है तो दूसरी ओर कांग्रेस के लिए आम आदमी पार्टी मुसीबत बन रही है।

बता दें कि नालागढ़  विधानसभा क्षेत्र से क्या इस बार भी राजपूत  बिरादरी से ताल्लुक रखने वाले दोनों नेता भाजपा के टिक्कट के ऊपर अपनी दावेदारी जता रहे है लेकिन भाजपा का टिकट के लिए कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामने वाले बिधायक राणा लखविंदर या भाजपा के पूर्व विधायक के एल ठाकुर  की बिच जंग छिड़ी है उसके अलाबा भाजपा के टिकट के लिए राजपूत विराधरी के लिए ही भाजपा के नेता सरवन चंदेल भी टिक्कट के लिए अपना दावा ठोक रहे है लेकिन टिकट के लिए बर्तमान विधायक व् पूर्व विधायक ही असली दावेदार जताये जा रहे है
यहां देखने वाली बात यह रहेगी की दोनों में से किसी एक को ही टिकट मिलेगा तो क्या राजपूत बोट बैंक का भाजपा को फायदा मिल पायेगा जो बर्तमान दो बड़े राजपूत नेता टिकट न मिलने पर भाजपा का समीकरण बिगाड़ सकते है क्या उनके मनाने में भाजपा सफल हो पायेगी !उसके अलाबा सैनी बिराधरी से पूर्व मंत्री हरिनारायण सैनी के  परिवार से उनके भतीजे हरदीप सिंह भी भाजपा के टिकट के लिए दावेदारी पेश करेंगे

क्या विधायक या पूर्व विधायक को अपनी बिरादरी का सुख मिल पाएगा। ये तो मतदाता ही तय करेगा। पिछली बार उन्होंने बहुत ही कम अंतरों के मतो के अंतर से के एल ठाकुर  को हराया।

नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र की जिस पंचायत में भी

राजपूत विराधारी  के वोटर ज्यादा है। वहां पर

रिकार्ड बढ़तभाजपा  को मिली थी।

अब करते है बात कांग्रेस पार्टी की कांग्रेस के टिकट पर नालागढ़ से  विधायक चुने गए राणा लखविंदर के कांग्रेस छोड़ने से कांग्रस में गुटवाज़ी समाप्त हो गयी है कांग्रेस के टिकट के एक मात्र दावेदारी बाबा हरदीप सिंह की रह गयी है बाबा हरदीप सिंह का भी नालागढ़ विधानसभा के मतदाताओं में अच्छी पकड़ और वह सरदार होने के नाते सिख विराधरी का भी  बाबा हरदीप सिंह को हो सकता है जिसका फायदा कांग्रेस पार्टी को मिल सकता है  लेकिन नालागढ़ में आम आदमी पार्टी सक्रिय होने से कांग्रेस पार्टी का समीकरण बिगाड़ सकती है आम आदमी पार्टी के टिकट पर धर्मपाल चौहान  की प्रबल दाबेदारी मानी जा रही है धर्मपाल चौहान का भी अपनी बिराधरी में अच्छी पेठ मानी जा रही और चौधरी बिराधरी का बोट बैंक नालागढ़ विधानसभा में दूसरे नंबर पर आता है 

Happy
Happy
50 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
33 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
17 %
nstar india
Author: nstar india

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *