ग्राम पंचायत मानपुरा के तहत थेड़ा गाँव के ग्रामीणों ने गांव की श्यामलॉट ज़मीन इंडस्ट्री डिपार्टमेंट को दिये जाने का किया विरोध

ग्राम पंचायत मानपुरा के तहत थेड़ा गाँव के ग्रामीणों ने गांव की श्यामलॉट ज़मीन इंडस्ट्री डिपार्टमेंट को दिये जाने का किया विरोध

Read Time:4 Minute, 7 Second

ग्राम पंचायत मानपुरा के तहत थेड़ा गाँव के ग्रामीणों ने गांव की श्यामलॉट ज़मीन इंडस्ट्री डिपार्टमेंट को दिये जाने का किया विरोध

गाँव के बुजुर्ग,महिला मंडल व युवा मंडल ने संयुक्त रूप से शांति प्रदर्शन करते हुए एसडीएम नालागढ़ को सौंपा ज्ञापन

ग्राम पंचायत मानपुरा के तहत थेड़ा गांव के बुजुर्ग , महिला मंडल व युवा मंडल ने आज पुलिस स्टेशन से एसडीएम ऑफिस तक शांति पूर्ण प्रदर्शन करते हुए एक ज्ञापन एसडीएम नालागढ़ दिव्यांशु सिंगल को सौंपा ज्ञापन में ग्रामीणों ने यह गुहार लगायी की सिंगल विंडो की तरफ़ से उनकी पंचायत में श्यामलाट ज़मीन जॉकी 11 बीघे के क़रीब है उस ज़मीन की एनओसी देने के लिए गुज़ारिश की गई थी पंचायत के प्रधान द्वारा एनओसी भी दे दी गई थी परंतु बाद में पता चला कि वह ज़मीन इंडस्ट्री डिपार्टमेंट के नाम हो गई है और पहले ही से वहाँ लगे दो उद्योगों को वह ज़मीन दी जा रही है

ग्राम पंचायत मानपुरा के तहत थेड़ा गाँव के ग्रामीणों ने गांव की श्यामलॉट ज़मीन इंडस्ट्री डिपार्टमेंट को दिये जाने का किया विरोध

युवक मंडल थेड़ा के प्रधान राजेंद्र सेनी ने बताया कि जो दो उद्योग पहले से लगे है उससे पहले ही ग्रामीण काफ़ी परेशान है क्योंकि उद्योग के जो नियम होते है ये उद्योग उन नियमों की पालना नहीं कर रहे है उद्योगों का गंदा पानी साथ लगते चोये में फेंका जाता है जिससे आस पास की फ़सले ख़राब हो रही है और गंदे पानी से आ रही बदबू से ग्रामीण पहले से ही काफ़ी परेशान है और कई तरह की बीमारियाँ होने का ख़तरा है राजेंद्र सेनी ने बताया कि उद्योगों द्वारा जहां गंदा पानी छोड़ा जाता है उससे निचली तरफ़ आईपीएच की पानी की स्कीम है उस स्कीम से आस पास के तक़रीबन 5000 लोगो के घरों में पानी जाता है गंदा पानी छोड़ने से घरों में लगे नलको में कई बार गंदा पानी आ जाता है जिससे कई प्रकार की बीमारियाँ होने का ख़तरा है राजेंद्र सेनी ने बताया कि अगर गाँव वालों को पहले पता होता कि यह ज़मीन इंडस्ट्री डिपार्टमेंट को देनी है और पहले से लगे उद्योगों को ज़मीन मिलेगी तो पंचायत कभी भी एनओसी नहीं देती उन्होंने एसडीएम नालागढ़ से गुज़ारिशकरी की पंचायत द्वारा दी गई एनओसी को कैंसिल करके इंडस्ट्री डिपार्टमेंट से यह ज़मीन वापस ली जाए और इस ज़मीनपर युवायो के खेलने के लिये मैदान या प्रशासन कोई और परपज़ के लिए इसे इस्तेमाल करे उसके लिए सभी पंचायत वासी उनका साथ देंगे

एसडीएम दिव्यांशु सिंगल ने बताया कि मानपुरा पंचायत का प्रतिनिधि मंडल उनसे मिला और उनके गांव में श्यामलाट ज़मीन की समस्या के बारे में अवगत कराया एसडीएम नालागढ़ ने कहा कि जो भी इस मामले में उचित कारवाही होगी वो की जाएगी

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
nstar india
Author: nstar india

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *